Saturday, September 26सही समय पर सच्ची खबर...
Shadow

‘समरनीति न्यूज’ के कार्यालय में सिटी मजिस्ट्रेट सुरेंद्र सिंह, पढ़िए- दो टूक बातचीत..

Banda city majistrate surendra singh in Samarneetinews office as a guest

समरनीति न्यूज, बांदाः इस वक्त बांदा जिला वैश्विक महामारी कोविड-19 यानि कोरोना के संकट से जूझ रहा है। आज शुक्रवार को पाॅजिटिव केस एक सैंकड़ा से उपर पहुंच चुके हैं। प्रशासन ने कोरोना पर लगाम कसने में कोई कोर-कसर बाकी नहीं छोड़ी है। प्रशासन के प्रयास काफी हद तक सफल भी हुए हैं। हालांकि, बिल्कुल रोक देना तो संभव नहीं है। यह बात हम सब जानते हैं। अधिकारियों के सामने चुनौतियां हैं तो आम आदमी के सामने रोजी-रोटी से लेकर दूसरी चिंताएं। बाजार कब खुलेगा, बंदी का समय क्या होगा, कौन-कौन सी दुकानें खुलेंगी। कई सवाल उठ रहे हैं। इन्हीं सब बातों को लेकर आज हमने अपने कार्यालय में बांदा के तेज तर्रार छवि वाले सिटी मजिस्ट्रेट सुरेंद्र सिंह को आमंत्रित किया।

Banda city majistrate surendra singh in Samarneetinews office as a guest

सिटी मजिस्ट्रेट हमारे अतिथि बने और जनता से जुड़े हर उस सवाल का उन्होंने स्पष्ट जवाब दिया। इस मौके पर समरनीति न्यूज’ के डायरेक्टर/एडिटर इन चीफ मनोज सिंह शुमाली से उनकी खुलकर बात हुई। आइये हम बताते हैं बातचीत के प्रमुख अंशः-

सवालः वीकेंड में दो दिन के लाॅकडाउन के नियम क्या होंगे..? आम दुकानदार इसे कैसे समझे..?

  • देखिए, शुक्रवार रात 10 बजे से लाकडाउन होने के बाद सोमवार सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा। इस अवधि में सभी दुकानें बंद रहेंगी। सिर्फ आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुलने की अनुमति दी जाएगी। जैसे दूध-फल और दवाओं के साथ-साथ किराना की दुकानें भी खोलने की अनुमति रहेगी। इसलिए लोग परेशान न हों। प्रशासन उनके साथ है।

सवालः बाकी के 5 दिन बाजार खुलेंगे, क्या उसमें किसी तरह की रोक होगी..?

  • कोई पाबंदी नहीं होगी। बाकी 5 दिनों में दुकानें, माल और शोरूम खोले जा सकते हैं। हां, इतना जरूरी है कि माल या दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ ग्राहक और वहां काम करने वाले लोगों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा। इसके लिए दो दिन पहले आयुक्त सर और डीआईजी सर ने बैठक करते हुए निर्देश भी दिए हैं। इसका सभी को पालन करना है।

Banda city majistrate surendra singh in Samarneetinews office as a guest

सवालः बीते एक सप्ताह में बहुत तेजी से पाजिटिव केस मिले हैं, ऐसे में प्रशासन की रणनीति क्या होगी..?

  • यह बात सही है कि बीते एक सप्ताह में एकदम से पाॅजिटिव केस बढ़े हैं। हालांकि, इसकी वजह बांदा में एक शिवहरे फैमिली में हुई शादी है। इस शादी में शामिल होने वाले ज्यादातर लोग कोरोना की चपेट में आए। यहां तक कि इसमें हमीरपुर के लोग भी कोरोना की चपेट में आए। ऐसे में एक बात साफ कर देना चाहता हूं कि अब इसका फैलाव बढ़ रहा है तो हम पहले से ज्यादा सतर्क हैं और ज्याद कारगर कदम उठाएंगे। इसके लिए जनता को खुद कोरोना से खतरे के प्रति अलर्ट रहना होगा।

सवालः लोग मास्क को पहनने की बजाए, गले में लटकाए चलते हैं, कैसे समझाएंगे इन लोगों को..?

  • हाल ही में हुई उच्चाधिकारियों की बैठक में इसे लेकर रणनीति बनी है। इसमें मास्क को लेकर काफी प्राथमिका रही। तय किया गया है कि अधिकारी भी औचक निरीक्षण करके अस्पताल व अन्य जगहों पर मास्क की स्थिति देखेंगे। मैं खुद मास्क को लेकर चेकिंग करुंगा। मतलब साफ है कि अस्पतालों में मास्क न लगाने वालों या दूसरी जगहों पर मास्क बिना मिलने वाले लोगों को जुर्माना लगाया जाएगा। अब जुर्माना 500 से बढ़ाकर 1000 रुपए कर दिया गया है।

Banda city majistrate surendra singh in Samarneetinews office as a guest

सवालः हाल ही में आपने बांदा विकास प्राधिकरण के सचिव के तौर पर काफी सख्त फैसले लिए। विरोध भी दिखा, क्या कहेंगे ?

  • देखिए, हम सिर्फ अपना काम कर रहे हैं, जिन पेट्रोल पंपों पर बांदा विकास प्राधिकरण का नक्शा नहीं था, उनको नोटिस दिया गया। हमने सरकार के निमयों का पालन किया। पांच पेट्रोल पंपों को नोटिस दिया गया था। उनमें से लगभग 3 का विकास शुल्क जमा हो चुका है। सरकार को 45 से 50 लाख के राजस्व का फायदा हुआ है। दरअसल, पेट्रोल पंप बनाते वक्त बीडीए से नक्शा पास होना चाहिए, इस नियम का पालन सुनिश्चित कराने का काम किया।

सवालः यहां बिना बीडीए के नक्शे से कई मैरिज हाल, बैंकट और कांप्लेक्स बने खड़े हैं, पार्किंग तक की जगह नहीं है? क्या करेंगे?

  • ऐसे लोगों के खिलाफ भी नोटिस देकर कार्रवाई की जाएगी। ये जनता के हितों का अतिक्रमण है और कहीं न कहीं आम लोग ही इसका खामियाजा भुगतने को मजबूर होते हैं। इसकी शिकायत मिली है, नोटिस देकर कार्रवाई करेंगे।

सवालः कहा जा रहा है कि बीडीए की ओर से हाल ही में शहर में काफी लोगों को नोटिसें दी गई हैं। यह क्या मामला है ?

  • बीडीए की ओर से बांदा में कुल 71 लोगों को नोटिसें जारी की गई हैं। ये नोटिसें व्यावसायिक और नव निर्माण करने वाले लोगों को जारी हुई हैं। यानि जो लोग नए भवन बनवा रहे हैं, उनको ही नोटिस दी गई हैं। इससे भवन निर्माण के वक्त बीडीए से नक्शा पास कराना होगा, इसमें बुराई क्या है। बीडीए ने किसी भी पुराने बन चुके भवन वाले को नोटिस नहीं दी है। हमारा मकसद सिर्फ इतना है कि जो लोग नवनिर्माण करा रहे हैं वह पूरी तरह से नियमपूर्ण हो। किसी को बेवजह परेशान नहीं किया जाएगा।

ये भी पढ़ेंः ‘समरनीति न्यूज’ आफिस में DIG दीपक कुमार अतिथि बने

इसी दौरान ‘समरनीति न्यूज’ के कार्यालय में सिटी मजिस्ट्रेट ने डिजिटल मीडिया में खबरों के संपादन से लेकर उनकी एडिटिंग और प्रकाशन तक की बारीकियों को खुद समझा। स्टाफ से बात की। साथ ही कहा कि डिजिटल मीडिया तेजी से उभरता प्लेटफार्म है। इसकी विश्वसनीयता बेहद अहम है। ऐसे में समरनीति न्यूज में खबरों को जिस तथ्यात्मक और अधिकारिक बयानों के साथ प्रकाशित किया जा रहा है वह सचमुच सराहनीय है। इस मौके पर समरनीति की टीम के नम्रता लोधी, अवनीश चौहान, विवेक मिश्रा, शमीम अहमद भी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ेंः ‘समरनीति न्यूज’ के कार्यालय पहुंचे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने दी बधाई