Sunday, November 17सही समय पर सच्ची खबर...

बांदा में साधु की हत्या कर शव खेत में फेंका, साधुओं पर आरोप

dead body was thrown in field After killing the monk in Banda

समरनीति न्यूज, बांदाः बबेरू कोतवाली क्षेत्र के बुढ़होली और पाली गांव के बीच में स्थित दुर्गा देवी के मंदिर में रह रहे एक साधु की साथी साधुओं ने ही विवाद के दौरान लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी। रविवार सुबह शव देखते ही ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है। पुलिस ने मंदिर में रहने वाले कई साधुओं को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। हत्या की यह वारदात बबेरू कोतवाली क्षेत्र के मुरवल में हुई है। बताते हैं कि मुरवल गांव निवासी किशन सिंह (40) साधु बन गया था। दीपावली के मौके पर वह चित्रकूट के मोनी बाबा आश्रम गया था। वहां कई दिनों तक रुकने के बाद वापस आकर पाली गांव के समीप स्थित दुर्गा मंदिर में रहने वाले अन्य साधुओ के साथ रहने लगा।

आज रविवार सुबह मिला शव

रविवार सुबह उसका शव खेतों में पड़ा पाया गया। उसके सिर और आंखों में चोट के निशान हैं। बताते हैं कि लाठी-डंडों से पीटकर उसकी हत्या की गई है।  बबेरू कोतवाली प्रभारी शशि पांडे ने बताया है कि मंदिर में रहने वाले अन्य साधुओं से शनिवार की रात को किशन सिंह का किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। अन्य साधुओं ने लाठी-डंडों से पीटकर किशन सिंह की हत्या कर दी। हत्या के बाद शव को गांव के स्वयंबर सिंह के खेत में फेंक दिया।

ये भी पढ़ेंः बांदा में अयोध्या फैसले के बाद भड़काऊ टिप्पणी करने वाले 3 पर मुकदमा, 1 गिरफ्तार

फिर सभी मंदिर लौट गए। श्री पांडे ने बताया कि मंदिर में रहने वाले अन्य साधुओं को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि किशन सिंह पांच भाइयों में तीसरे नंबर का था। उस पर धारा 307 जानलेवा हमला, गुंडा एक्ट आर्म्स एक्ट का मुकदमा भी दर्ज है। मृतक अविवाहित था। उसके पिता की मौत बचपन में ही हो गई थी। कोतवाली प्रभारी का कहना है कि जल्द ही हत्या का खुलासा कर दिया जाएगा।

ये भी पढ़ेंः बांदा में बस्ती में घुसा लकड़बग्घा, बाद में ट्रक से कुचलकर मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *