Friday, January 22सही समय पर सच्ची खबर...
Shadow

किसानों के बीच पहुंचे कृषि वैज्ञानिक, सर्वे कर सौंपे उन्नतिशील प्रजाति के पौधे

team of Agricultural University scientists conducted survey

समरनीति न्यूज, बांदाः किसान प्रगति योजना के तहत कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों की टीम ने आज जारी गांव में सर्वे किया। बताते हैं कि इस जियो सर्वे का उद्देश्य मनरेगा के तहत नामित/चिन्हित किसानों के खेतों का अक्षांश देशांतर सहित वास्तिविक स्थिति का पता लगाया जा सके। यह दो दिवसीय सर्वे कार्य का आज आखिरी दिन था। मनरेगा योजना से गरीब किसानों एवं बेरोजगार ग्रामीण को रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से कृषि विश्वविद्यालय द्वारा शासन को कृषि संबद्ध व्यवसाय में रोजगार सृजन के लिए परियोजना सम्मलित किया जाना है।

किसानों को दिए उन्नतिशील सब्जी के पौधे

इसी क्रम में वैज्ञानिक किसानों के बीच जाकर खेतों पर सर्वे कर रहे हैं। इस कार्य के अलावा कृषि विश्वविद्यालय के सब्जी वैज्ञानिकों द्वारा जारी गांव में कुछ सब्जी उत्पादक कृषकों को उन्नतिशील प्रजाति के सब्जी के पौध वितरित किए। उन्नत किस्म के बैगन के 1000 पौध किसानों को उपलब्ध कराए गए। सर्वे के दूसरे दिन किसानों को कृषि तकनीक की जानीकारी दी गई।

ये भी पढ़ेंः बांदा कृषि विश्वविद्यालय पहुंची इजरायल के एक्सपर्ट की टीम, कुलपति संग बैठक में तकनीक पर चर्चा 

किसानों को खरपतवार को पहचानकर धान में रासयनिक नियंत्रण की जानकारी भी दी गई। सहायक प्राध्यापक संजय कुमार ने कुछ प्रतिभाशाली युवकों को पहचानकर उन्हें जियो सर्वे भी सिखाया। सह प्राध्यापक डा. धर्मेंद्र कुमार, सह प्राध्यापक दिनेश शाह, सहायक प्राध्यापक डा. सुनील कुमार, सहायक प्राध्यापक डा. ओमप्रकाश, सहायक प्राध्यापक डा. कौशल कुमार, सहायक प्राध्यापक डा. अनिकेत आदि मौजूद रहे।

ये भी पढ़ेंः बांदा में कृषि मंत्री ने 20 करोड़ की योजनाओं को दी हरी झंडी