Tuesday, October 4सही समय पर सच्ची खबर...
Shadow

बांदा में मरीजों की जिंदगी से खेलता प्राइवेट अस्पताल, 5 दिन से बिजली कटी-जनरेटर पर व्यवस्था

Expectations of Negligence : Power cut in private hospital in Banda, lives of patients relying on generators

समरनीति न्यूज, बांदा : बिजली बकाए को लेकर बांदा के चर्चित अस्पताल अवनी परिधि की बिजली पिछले पांच दिनों से कटी हुई है। अस्पताल से जुड़े सूत्र बताते हैं कि विद्युत विभाग ने बीते रविवार को अस्पताल की बिजली काट दी थी। गर्मी, उमस और बरसात के इस मौसम में अस्पताल के मरीज जनरेटर के सहारे हैं। आप समझ सकते हैं कि ऐसे में मरीजों की हालत क्या होगी। उनकी जिंदगी खतरे में है। मरीज भर्ती भी होते हैं। दरअसल, जनरेटर की बात करें तो यह बिजली सप्लाई का परमानेंट इलाज नहीं है, बल्कि यह एक वैकल्पिक व्यवस्था है। अब आप ऐसे में अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही देखिए कि बिजली बिल का बकाया भुगतान करने से बीते 5 दिनों से अबतक हाथ खींचे हुए है। यह लापरवाही लोगों की समझ से परे है।

बिजली बिल न चुकाने पर कटी बत्ती, प्रबंधन जमा करने की बजाए जनरेटर चला रहा

सूत्रों की माने तो हाल ही में इसी अस्पताल पर प्रशासनिक अधिकारियों ने अल्ट्रासाउंड सेंटर और दूसरे जगहों पर छापे मारे थे। छापे के दौरान अल्ट्रासाउंड सेंटर से तकनीकिशियन नहीं मिला था। उस समय अधिकारियों ने बताया था कि एक अनट्रेंड व्यक्ति से तकनीशियन का काम कराया जा रहा था।

पहले भी छापों में मिल चुकीं कई अनियमितताएं, अल्ट्रासाउंट सेंटर पर उठ चुके सवाल

इसके अलावा भी अस्पताल में कई खामियां मिली थीं। प्रशासन ने कार्रवाई भी की थी। इसके बाद भी अस्पताल की व्यवस्थाएं नहीं सुधरीं। सूत्रों का कहना है कि अस्पताल पर बिजली विभाग का लाखों रुपए का बिल बकाया है। इस कारण बिजली विभाग ने बिजली सप्लाई काटी है। हालांकि, इस बारे में बिजली विभाग के किसी अधिकारी से संपर्क नहीं हो सका है। अस्पताल प्रबंधन ने जरूर इसकी पुष्टि की है।

ये भी पढ़ें : लखनऊ : जेई परिवार के 3 लोगों ने खाया जहर, बाप-बेटी के बाद मां ने भी तोड़ा दम

Leave a Reply

Your email address will not be published.