Thursday, January 21सही समय पर सच्ची खबर...
Shadow

वीडियोः कानपुर डीएम ने अपनी वायरल ‘जूते’ वाली फोटो की सच्चाई बताई

Kanpur DM cleared the situation on his 'shoe' viral photo

मनोज सिंह शुमाली, कानपुरः सोशल मीडिया पर कई बार कुछ लोग ऐसा दुष्प्रचार कर देते हैं कि संबंधित व्यक्ति को सफाई देनी पड़ जाती है। ऐसा ही कुछ कानपुर के जिलाधिकारी ब्रह्मदेव राम तिवारी के साथ हुआ। कोरोना संकट से जूझ रहे कानपुर प्रशासन के प्रयासों की हर कोई सराहना कर रहा है। वहीं  सोशल मीडिया पर किसी ने उनकी एक फोटो गलत कैप्शन के साथ वायरल कर दी। इस फोटो में वह झुककर अपने जूते की ओर देख रहे हैं और एक पुलिस कर्मी भी पास में बैठा जूते की ओर ही कुछ देखने की कोशिश कर रहा है।

शरारती तत्वों ने वायरल कर दी फोटो

इसी बीच किसी ने उनकी फोटो खींच ली। बाद में इस फोटो को सोशल मीडिया पर गलत कैप्शन के साथ वायरल कर दिया। वायरल करने वाले ने फोटो के साथ लिखा कि कानपुर के डीएम ने दरोगा से अस्पताल के गेट पर अपने जूते सेनेटाइज कराए…।

जिलाधिकारी ने बताई पूरी बात

बताते हैं कि देखते ही देखते यह मैसेज सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया। प्रशासनिक गलियारे में भी तेजी से फैली। राजधानी लखनऊ में भी चर्चा होने लगी। जानकारी होने पर जिलाधिकारी ब्रह्मदेव राम तिवारी ने इस फोटो की सच्चाई बताई। उन्होंने बताया कि फोटो उस वक्त की है जब वह कानपुर के कांशीराम अस्पताल में निरीक्षण के लिए गए थे। यह अस्पताल कोरोना अस्पताल भी है।

ये भी पढ़ेंः Corona: कानपुर में 3 और कोरोना पाॅजिटिव मिले, 5 संदिग्धों की मौत

जिलाधिकारी ने तिवारी बताया डाक्टरों की मौजूदगी में वह जूते में कुछ चीज फंसने का एहसास होने पर नीचे की ओर देख रहे थे। तभी पास में खड़े सुरक्षाकर्मी भी जूते की ओर देखने लगे। किसी ने फोटो लेकर इसे दुष्प्रचार के लिए वायरल कर दिया। बहरहाल, जिलाधिकारी ने स्थिति साफ कर दी। बताते चलें कि कोरोना संकट को लेकर कानपुर लगातार संवेदनशील बना है। यहां का प्रशासन और पुलिस लगातार स्थिति संभालने के लिए दिन-रात मेहनत कर रही है। जिलाधिकारी ब्रह्मदेव राम तिवारी खुद जगह-जगह पहुंच रहे हैं, लोगों से बात कर रहे हैं, उनको समझा रहे हैं कि लाॅकडाउन का पालन करें। अब ऐसे अधिकारी के बारे में दुष्प्रचार कितना आहत करने वाला है, इसे समझा जा सकता है।

ये भी पढ़ेंः लखनऊ पुलिस ने बाॅलीवुड सिंगर कनिका के घर चस्पा किया नोटिस