Saturday, September 26सही समय पर सच्ची खबर...
Shadow

गुलाम से आजाद हुई कांग्रेस..सोनिया गांधी का बड़ा फैसला

Congress becomes free from Gulam ... Sonia Gandhi's big decision

सुभाष शुक्ला, समरनीति न्यूज, डेस्क : कांग्रेस पार्टी में चिट्ठी विवाद के बाद आज शुक्रवार को एक बड़ा बदलाव सामने आया। पार्टी के बड़े नेता गुलाम नबी आजाद को महासचिव पद से हटा दिया गया है। उनके साथ तीन और महासचिव हटाए गए हैं। पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने एक बयान जारी करते हुए इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा है कि गुलाम नवी आजाद, अंबिका सोनी, मोतीलाल वोरा के साथ ही मल्लिकार्जुन खड़गे को महासचिव पद से हटा दिया गया है।

गुलाम हटाए गए, सुरजेवाला का कद और ऊंचा

वहीं पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला का कद और ऊंचा कर दिया गया है। अब उनको कांग्रेस अध्यक्ष को सलाह देने वाली उच्च स्तरीय छह सदस्यीय समिति में शामिल कर लिया गया है। इतना ही नहीं सुरजेवाला कांग्रेस पार्टी के महासिचव होंगे। उनको कर्नाटक का प्रभारी भी नियुक्त किया गया है। इसके साथ ही मधुसूदन मिस्त्री को केंद्रीय चुनाव समिति का अध्यक्ष घोषित कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें : कौन बना आपके जिले का कांग्रेस जिलाध्यक्ष! पढ़िए सूची-कांग्रेस का मिशन यूपीः प्रदेश के नए जिलाध्यक्षों की घोषणा

वहीं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी को उत्तर प्रदेश का प्रभारी घोषित किया गया है। महासचिवों में मुकुल वासनिक को मध्य प्रदेश तो हरीश रावत को पंजाब और ओमान चांडी को आंध्र का दायित्व सौंपा गया है। इसी तरह तारीक अनवर को केरल के साथ लक्षद्वीप तथा जितेंद्र सिंह को असम, तो वहीं अजय माकन को राजस्थान का प्रभारी नियुक्त किया गया है। बता दें कि हाल ही में सीडब्लूसी की बैठक में पार्टी की अंदरुनी खेमेबाजी चरम पर पहुंच गई थी। वहीं गुलाम नबी आजाद और पार्टी के कुछ दूसरे नेताओं ने इस बवाल को काफी बढ़ा दिया था। ऐसे में तय था कि पार्टी अध्यक्ष बड़ा बदलाव कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें : मायावती को बड़ा झटकाः राजस्थान में बसपा के सभी 6 विधायक कांग्रेस में शामिल