Sunday, December 4सही समय पर सच्ची खबर...
Shadow

UP : चपरासी ने किया प्रबंधक की हत्या का प्रयास, ऊंगली काटी-गला दबाया, फिर फरार

Major incident in Banda, fatal attack on Divisional Project Manager, finger slit and strangulated

समरनीति न्यूज, बांदा : एक शराबी किस्म के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने मंडलीय परियोजना प्रबंधक पर जानलेवा हमला कर दिया। दिनदहाड़े उनकी हत्या का प्रयास किया। उनकी ऊंगली काट दी और गला दबाकर जान से मारने की कोशिश की। बाकी कर्मचारियों ने किसी तरह उन्हें बचाया। इसके बाद आरोपी वहां से भाग निकला। घायल हालत में प्रबंधक ने कोतवाली पहुंचकर मुकदमा दर्ज कराया। आरोपी अबतक फरार है।

स्टाफ में दहशत, मुकदमा दर्ज

दरअसल, मंडलीय कार्यक्रम प्रबंधन इकाई, चित्रकूटधाम मंडल के मंडलीय परियोजना प्रबंधक आलोक कुमार ने कोतवाली पहुंचकर पुलिस को जानकारी दी है कि गुरुवार सुबह लगभग सवा 10 बजे अपने कार्यालय पहुंचे। बाहर मेज पर शराब की बोतलें पड़ी थीं। आफिस के कमरे में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी पंकज अर्धनग्न हालत में लेटा हुआ था।

ये भी पढ़ें : पहले युवती से दुष्कर्म, फिर धर्म परिवर्तन को दबाव, आरोपी, मां-बहन-भाई समेत 7 गिरफ्तार-कोतवाल भी नपे  

इसपर प्रबंधक ने उसे डांटा और दोबारा ऐसा न करने को कहा। अधिकारी ने बताया कि इतने पर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने उनपर हमला कर दिया। बाएं हाथ का अंगूठा काट लिया। गला दबाकर उनकी हत्या का प्रयास किया। किसी तरह वह खुद को बचा सके। घटना के समय उनके साथ मंडलीय परिवार नियोजन व लॉजिस्टिक प्रबंधक अमृता राज, कार्यालय सहायक विनोद और वाहन चालक सुशील भी थे।

मामले में क्या कह रही पुलिस

उधर, कोतवाली प्रभारी श्यामबाबू शुक्ला का कहा है कि आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उसकी तलाश की जा रही है। उधर, परियोजना प्रबंधक आलोक कुमार का कहना है कि आरोपी पंकज की अक्सर शिकायतें मिलती थीं कि वह शराब पीकर अभद्रता करता रहता है। इसकी शिकायत मिशन निदेशक/अधिशासी निदेशक (सिफ्सा/एनएचएम), लखनऊ से भी की गई। दूसरे कर्मचारी की नियुक्ति का अनुरोध किया गया था। अबतक कोई नई तैनाती नहीं हुई है।

ये भी पढ़ें : UPNews : DPRO का लिपिक रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

Leave a Reply

Your email address will not be published.