Tuesday, February 25सही समय पर सच्ची खबर...

कानपुरः बहुरुपिया निकला गुरुद्वारे के प्रधान की बेटी हरप्रीत कौर का हत्यारोपी प्रेमी

Harpreet kaur with murderer lover Jagraj singh

समरनीति न्यूज, कानपुरः प्रयागराज हाइवे पर कानपुर के गुरुद्वारा बन्नो साहिब जवाहर नगर के प्रधान गुरबचन सिंह की बेटी हरप्रीत कौर हत्याकांड में रोज नए चौंकाने वाले खुलासे सामने आ रहे हैं। हरप्रीत का हत्यारा उसी का प्रेमी निकला, जो न सिर्फ झूठा है, बल्कि बहुरुपिया भी निकला। अब पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि उसका असली नाम युवराज सिंह नहीं, बल्कि जगराज सिंह है। इतना ही नहीं वह शादीशुदा है और उसका परिवार उसी के साथ दिल्ली के बंगला साहिब गुरुद्वारे में ही रहता है जिसमें वह क्लर्क पद पर तैनात है। ये सभी सच्चाई उसने हरप्रीत से छिपाई थी। वह अमृतसर का रहने वाला है।

Harpreet kaur with murderer lover Jagraj singh
जगराज सिंह। (मुख्य हत्यारोपी)

तलाश का करता रहा ढोंग

हत्यारा जगराज कितना शातिर है, इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 9 दिसंबर को हरप्रीत कौर की हत्या करने के बाद रात में ही वह अपने साथियों के साथ दिल्ली भाग गया था। अगले दिन हरप्रीत के भाई के साथ उसे तलाशने की ढोंग भी करता रहा। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त कार और उसके चालक को गिरफ्तार करने के बाद हत्याकांड का खुलासा तो कर दिया है, लेकिन मुख्य हत्यारा जगराज सिंह अबतक पुलिस की पकड़ से बाहर है। वह बेहद शातिर और खतरनाक किस्म का बताया जा रहा है।

kanpur Harpreet kaur file photo
हरप्रीत कौर।(फाइल फोटो)

वाट्सएप प्रोफाइल पर लिखा है आशिक

जगराज नाम का यह हत्यारोपी कितना आशिक मिजाज है कि इसका पता इसी बात से चलता है कि शादीशुदा होने के बाद भी उसने अपने वाट्सएप प्रोफाइल पर आशिक नाम लिखा हुआ है। हालांकि, अब उसने अपनी फोटो प्रोफाइल से हटा दी है। पुलिस का कहना है कि उसकी तलाश में लगी है, जल्द ही उसे गिरफ्तार किया जाएगा।

यह था पूरा मामला

बताते चलें कि कानपुर में नजीराबाद इलाके में रहने वाली 22 वर्षीय बीकॉम की छात्रा हरप्रीत कौर 9 दिसंबर को उस वक्त लापता हो गई थी जब वह घर से दिल्ली जाने के लिए निकली थी। उसे सेंट्रल स्टेशन से ट्रेन से दिल्ली पहुंचना था, लेकिन नहीं पहुंची। 12 दिसंबर को उसका शव प्रयागराज हाइवे पर सड़क किनारे महाराजपुर थाना क्षेत्र में पड़ा मिला था।

संबंधित खबरः कानपुरःगुरुद्वारे के प्रधान की लापता बेटी का हाइवे पर मिला शव, हत्या की आशंका

हरप्रीत के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि उसकी गला दबाकर हत्या की गई। इतना ही नहीं हत्या से पहले उसे बेरहमी से पीटा गया था। उससे पेट, कंधे और चेहरे में चोटों के निशान थे। इससे यह भी स्पष्ट हो गया कि मरने से पहले हरप्रीत ने हत्यारों से जमकर संघर्ष किया था। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों के पैनल ने विसरा, स्वॉब और डीएनए सैंपल सुरक्षित रखा है।

संबंधित खबरः कानपुरः गुरुद्वारे के प्रधान की बेटी के शव का पोस्टमार्टम, भारी पुलिस बल तैनात

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *