Sunday, October 20सही समय पर सच्ची खबर...

भाजपा जिला उपाध्यक्ष को भारी पड़ा पुलिस से उलझना, दरोगा ने ठोका काम में बाधा का मुकदमा

समरनीति न्यूज, डेस्कः भाजपा के जिला उपाध्यक्ष को पुलिस से उलझना भारी पड़ा। वाहन चेकिंग के दौरान नेता जी पुलिस को ताव दिखा रहे थे, उनका कहना था कि चेकिंग यहां नहीं होनी चाहिए, नहीं तो हादसा हो सकता है, इतना ही नहीं पुलिस की सख्ती को लेकर भी नेता जी का मूड उखड़ा हुआ था। वहीं पुलिस तो पुलिस ठहरी, आम जनता की मित्र नहीं हो सकी, तो भला नेता जी की कैसे सुन सकती है। पुलिस ने भाजपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष और उनके 10-15 अज्ञात समर्थकों के खिलाफ सरकारी कामकाज में बाधा पहुंचाने का मुकदमा दर्ज किया है। दरअसल, मामला कानपुर देहात कोतवाली क्षेत्र से जुड़ा है। हालांकि पुलिस ने यह कार्रवाई नेता जी के पुलिस से उझते वीडियो के वायरल होने के बाद एसपी के निर्देश पर की है।

वीडियो वायरल होने के बाद एसपी के निर्देश पर कार्रवाई  

बताया जाता है कि शनिवार देर शाम पुलिस रूरा कस्बे में वाहन चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान भाजपा कार्यकर्ता एवं पूर्व सभासद बबलू कुशवाहा को पुलिस ने वाहन चेकिंग के लिए रोक लिया। नेता जी पुलिस से उलझ गए और अपनी मदद के लिए भाजपा के जिला उपाध्यक्ष श्याम बिहारी शुक्ल उर्फ रजोल को भी बुला लिया। उनके साथ कुछ समर्थक भी वहां पहुंच गए। भाजपाइयों ने आरोप लगाया कि पुलिस चेकिंग के नाम पर उनके कार्यकर्ता से बदसलूकी कर रही थी। वहीं भाजपा नेताओं का कहना था कि पुलिस गलत जगह पर चेकिंग कर रही थी और इससे वहां हादसा हो सकता है।

ये भी पढ़ेंः बड़ी खबरः उन्नाव रेप पीड़िता सड़क हादसे में गंभीर, मां और चाची की मौत, अखिलेश यादव ने की सीबीआई जांच की मांग

इन्हीं बातों को लेकर नोकझोंक हुई। इसका वीडियो वायरल हुआ तो एसपी अनुराग वत्स ने मामले का संज्ञान लिया। बताते हैं कि बाद में एसपी अनुराग वत्स के निर्देश पर रूरा कस्बा चौकी इंचार्ज धर्मेंद्र सिंह की ओर से जिला उपाध्यक्ष रजोल शुक्ल व बबलू कुशवाह समेत 10-15 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी सरकारी कामकाज में बाधा पहुंचाने का मुकदमा लिखा गया है। उधर, भाजपा के जिलाध्य7 राहुल देव अग्निहोत्री ने कहा कि यह छोटा मामला है, निपट जाएगा। हालांकि आरोपी उपाध्यक्ष और सभासद ने जानकारी से इंकार किया।

ये भी पढ़ेंः अजीबो-गरीबः डाक्टरों ने महिला के पेट से निकाले डेढ़ किलो आभूषण-सिक्के और अन्य सामान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *